Ghee Khane ke Fayde – घी खाने के फायदे और नुकसान

Ghee :- दोस्तों , आज आपको घी के बारे में पूरी जानकारी देते है और घी के फायदे और नुक्सान के बारे मैं भी आपको इस पोस्ट में जानकारी देंगे। इसके साथ साथ आपको घी का उपयोग और रोज कितनी मात्रा में घी का सेवन के बारे में भी थोड़ी बहुत जानकारी भी देंगे। तो चलिए शुरू करते है :-

About Ghee in Hindi
Ghee

घी

स्वस्थ रहने के लिए सही खाना खाना बहुत जरूरी है और सही खान-पान के साथ-साथ समय पर खाना भी बहुत जरूरी है। पुराने समय में लोग देसी Ghee खाते थे लेकिन अब समय बदल गया है और लोगों ने अब रिफाइंड को अपने आहार का हिस्सा बना लिया है।

आलम यह है कि आजकल लोग देसी घी खाना कम ही पसंद करते हैं। बदलती जीवनशैली के कारण लोगों का मानना है कि देसी घी खाने से चर्बी बढ़ती है और इस वजह से कई स्वास्थ्य समस्याएं आपको परेशान कर सकती हैं। लेकिन अगर आप सुबह उठकर खाली पेट एक चम्मच देसी घी का सेवन करते हैं तो आप कई समस्याओं से दूर रह सकते हैं।

घी का इस्तेमाल खाने का स्वाद बढ़ाने के लिए किया जाता है. ये न केवल खाने का स्वाद बढ़ाता है. बल्कि हमें स्वस्थ भी रखता है. आयुर्वेद में इसे दवा माना गया है. इसका सेवन आप गर्मी और सर्दी किसी भी मौसम में कर सकते हैं. इसमें कई सारे पोषक तत्व होते हैं जैसे ओमेगा-3, ओमेगा-9 फैटी एसिड और विटामिन ए, के, इ आदि. ये सेहत के लिए काफी फायदेमंद है.

आइए जानें इसके फायदे :-

बीकासूल कैप्सूल खाने से क्या फायदे होते हैं

घी खाने के फायदे

आयुर्वेद के अनुसार अगर आप सुबह खाली पेट नाश्ते से पहले देसी घी का सेवन करते हैं तो आपको कई स्वास्थ्य लाभ मिल सकते हैं। तो आइए जानते हैं कि देसी घी से आप कैसे अपनी सेहत को बेहतर बना सकते हैं।

10 Benefits of Ghee in Hindi

आइए जानें घी खाने के फायदे :-

1). वजन बढ़ाने में सहायक

कमजोर लोगों के लिए घी विशेष लाभकारी बताया गया है। Ghee में कुछ ऐसे तत्व पाए जाते हैं, जो आपका वजन बढ़ाने में कारगर साबित हो सकते हैं।

2). पाचन के लिए

घी पेट की परत को ठीक करके आपकी पाचन प्रक्रिया को सुचारू बना सकता है। यह आंतों की कोशिकाओं को पोषण देता है और सूजन को भी कम करता है, जिससे व्यक्ति के शरीर का पाचन तंत्र ठीक रहता है।

3). गठिया का इलाज

किसी भी प्रकार की सूजन संबंधी बीमारी से पीड़ित लोगों को अपने आहार में घी जरूर शामिल करना चाहिए। इसमें ब्यूटिरिक एसिड होता है, जो सूजन को कम कर सकता है। कठोर जोड़ों पर घी की मालिश करने से गठिया की सूजन और जकड़न से बचा जा सकता है।

4). मुंह के छालों को ठीक करना

मुंह के छालों और जलन में राहत प्रदान करने के लिए तेल खींचने की विधि का उपयोग किया जाता है। इसमें Ghee से व्यक्ति का गला साफ किया जा सकता है।

5). धूम्रपान के लिए हर्बल

कुछ लोगों को अक्सर कफ की शिकायत रहती है। आयुर्वेद हर्बल धूम्रपान प्रक्रिया में एक घटक के रूप में घी का उपयोग किया जाता है, जिसका उपयोग कफ की समस्या से छुटकारा पाने के लिए किया जा सकता है।

6). रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाएं

घी विटामिन ए से भरपूर होता है, जो एक बहुत ही शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट है। इसका सेवन करने से रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होती है।

7). हड्डियों को मजबूत बनाएं

विटामिन K2 से भरपूर घी हड्डियों को मजबूत बनाता है। विटामिन के हड्डी के चयापचय को नियंत्रित कर सकता है।

8). ऊर्जा का संचरण

ऊर्जा और सहनशक्ति बढ़ाने के लिए Ghee का सेवन करने की सलाह दी जाती है। एथलीट और ऊर्जा खपत वाले क्षेत्रों से जुड़े लोगों को घी का सेवन जरूर करना चाहिए।

घी से होने वाले नुकसान

जैसे हर सिक्के के दो पहलू होते हैं, वैसे ही हर फायदेमंद चीज का ज्यादा सेवन आपको नुकसान पहुंचा सकता है। अगर आप स्वाद के लिए घी का अधिक सेवन करते हैं या किसी स्वास्थ्य समस्या या एलर्जी के बावजूद घी का सेवन बंद नहीं करते हैं, तो घी के नुकसान हो सकते हैं। जानिए, घी के नुकसान।

8 Side Effects of Ghee in Hindi

  1. कई बार घी के अधिक सेवन से पेट में भारीपन आ जाता है। अगर आपके साथ भी ऐसा हो रहा है तो एक कप गर्म पेय या छाछ का सेवन करें।
  2. सर्दी-खांसी होने पर ज्यादा Ghee का सेवन न करें।
  3. कभी-कभी घी का अधिक सेवन अपच या दस्त की समस्या बन सकता है।
  4. कुछ लोगों का वजन घी खाने से बढ़ता है। अगर आपका वजन ज्यादा है तो घी का सेवन करने के बाद एक कप गर्म पानी पिएं और अगर खाने में घी डाला है तो गर्मागर्म खाएं।
  5. घी के अधिक सेवन से गर्भवती महिला और अजन्मे बच्चे का वजन सामान्य से अधिक बढ़ सकता है।
  6. गर्भावस्था के आखिरी हफ्तों में घी का अधिक सेवन या कम शारीरिक गतिविधियां प्रसव के दौरान परेशानी का कारण बन सकती हैं। इसलिए हल्की-फुल्की शारीरिक गतिविधियां करते रहें।
  7. पीलिया या लीवर संबंधी कोई रोग होने पर घी से परहेज करना चाहिए।
  8. गर्भवती महिलाओं को सर्दी, अपच या कब्ज होने पर घी नहीं खाना चाहिए।

बिस्तर में लंबे समय तक के लिए सबसे अच्छा आयुर्वेदिक दवा

अंतिम शब्द :- इस आर्टिकल में हमने आपको Ghee के बारे में थोड़ी बहुत जानकारी दी है और आपको घी के फायदे और घी के नुकसान  से रहबरू करवाया है. अगर आपको हमारा ये पोस्ट पसंद आया तो कमेंट करे और इस पोस्ट  दोस्तों को भी शेयर करे ताकि उनको जानकारी मिले।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.