Flax Seeds in Hindi – अलसी क्या है फायदे व नुकसान

Flax Seeds :- अलसी को अंग्रेजी में फ्लैक्स सीड्स के नाम से जाना जाता है। अलसी एक बीज है। यह दो किस्म की होती है। भूरी व पीली या सुनहरी रंग की होती है।

Flax Seeds
Flax Seeds

अलसी के पौष्टिक तत्व ?

अलसी में उच्च मात्रा में कार्बोहाइड्रेड पौष्टिक तत्व होता है। इसके अलावा विटामिन में नियासिन, फोलेट्स, पायरीडॉक्सीन, विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन ई, विटामिन के होते है। खनिजों में कैल्शियम, कॉपर, आयरन, मैग्नीशियम, मैंगनीज, जिंक, सोडियम, पोटैशियम इत्यादि होते है। जो सेहत के लिए बहुत लाभदायक होते है।

अलसी के फायदे क्या है ?

वजन कम करने में :- आजकल के लोगो का अधिक समय काम यानि लैपटॉप पर करते निकल जाता है। जिससे व्यक्ति को खान -पान का भी ध्यान नहीं दे पाता है। वजन बढ़ने लगता है और पता भी नहीं चलता है। ऐसे में अलसी का सेवन करना चाहिए। क्योंकि इसमें उच्च मात्रा में फाइबर होता है। जो वजन कम करने में मदद करता है।

ब्लड प्रेशर नियंत्रण करने में :- जब व्यक्ति तनाव में होता है। तो उसका रक्त चाप बढ़ने लगता है। जिससे हृदय में समस्या उत्पन्न होने लगती है। ऐसे में अलसी का सेवन करना चाहिए। इसमें उच्च मात्रा में फाइबर, लिनोलिक एसिड, लिगलेन होता है। जो कुछ हद तक ब्लड प्रेशर को नियंत्रण करने में मदद करता है।

डायबिटीज में :- डायबिटीज यानि शुगर से ग्रस्त लोगो को अलसी का सेवन लाभदायक होता है। इसमें उपस्थित म्यूलिज एक फाइबर होता है। जो पाचन को नियंत्रण कर रक्त में ग्लूकोज़ को कम करता है। यह शुगर टाइप 1 को भी कम करता है। (और पढ़े – डायबिटीज, शुगर क्या है)

इम्युनिटी सिस्टम के लिए :- शरीर को स्वस्थ रखने के लिए पहले शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता  मजबूत होना जरुरी होता है। इम्युनिटी को मजबूत बनाने के लिए अलसी का सेवन करना चाहिए। इसमें उपस्थित विटामिन सी व एंटीऑक्सीडेंट इम्युनिटी को मजबूत करते है। जिससे व्यक्ति जल्दी बीमार नहीं होता है।

सर्दी व खांसी को दूर करने में :- मौसम के बदलाव होने से अकसर लोगो को सर्दी- जुखाम की समस्या हो जाती है। अलसी का काढ़ा बनाकर पीना चाहिए। क्योंकि अलसी में एंटीऑक्सीडेंट, एंटी इन्फ्लेमेटरी होते है। जो सर्दी-खासी जैसी समस्या को जल्दी ठीक करता है।

कोलेस्ट्रॉल को कम करने में :– कोलेस्ट्रॉल कम होने से दिल स्वस्थ रहता है। अलस को 2 चम्मच रोजाना खाये। इसमें ओमेगा 3 और एंटीऑक्सीडेंट भरपूर मात्रा में होते है। जो शरीर की ऊर्जा बढ़ाते है।

महिलाओं के लिए अलसी के फायदे

  • अलसी का नियमित सेवन करने से पाचन क्रिया अच्छी होती है, क्योंकि इसमें पर्याप्त मात्रा में फाइबर होता है, जो पाचन शक्ति को बढ़ा कर कब्ज की समस्या को दूर करता है।
  • डाइटिशियन अलसी के सेवन की राय देते हैं, क्योंकि इससे वजन कंट्रोल करने में मदद मिलती है। यह फैट को घटाने का काम करता है। अलसी में जो अमीनो एसिड होता है, उससे वजन आसानी से घटता है।
  • यदि आपको ऑस्टियोआर्थराइटिस, रुमेटीइड गठिया है तो अलसी के तेल का उपयोग करें।
  • बालों में अगर डैंड्रफ की समस्या है, तो अलसी को पीसकर जड़ों में लगाने से डैंड्रफ की परेशानी खत्म हो जाती है।
  • बालों का वॉल्यूम बढ़ाने के लिए अलसी का हेयर मास्क फ़ायदेमंद होता है। इसके लिए अलसी के सीड्स को पीस लें, फिर इसमें दही, शहद और नींबू का रस मिला लें। 45 मिनट तक रखें और उसके बाद ठंडे पानी से धो लें
  • अगर सिर में खुजली, रेडनेस या जलन वाली परेशानी है तो अलसी का मास्क लगाना बालों के लिए फायदेमंद होता है।
  • अलसी के पाउडर में मुल्तानी मिट्टी, थोड़ा-सा नींबू व शहद मिलाकर चेहरे व गर्दन पर लगा लें। इससे आपके चेहरे में मुंहासे कम होते जाएंगे।
  • ड्राई स्किन के लिए अलसी का पाउडर, हल्दी और पानी मिलाकर पेस्ट बनाएं और चेहरे पर लगाएं। इससे स्किन हायड्रेट हो जाएगी।
  • स्किन पर ग्लो लाना है तो अलसी काफी फायदेमंद साबित हो सकती है। अलसी के बीज को भून कर, इसे एयर टाइट कंटेनर में रख दें। फिर सुबह के समय इसका सेवन करें तो इससे स्किन सेहतमंद होती है।

अलसी के नुकसान क्या है ?

अलसी स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद रहता है। लेकिन अलसी के कुछ नुकसान भीहोते है। जिसे हम नजर अंदाज नहीं कर सकते है।  

  • गर्भवती महिला को अलसी के बीज का सेवन नहीं करना चाहिए। यह बहुत गर्महोती है। जिसके रण बच्चे को नुकसान या बच्चा गिर सकता है।
  • जिन लड़कियों को मासिक धर्म के दौरान अधिक रक्तस्राव होता है उनको अलसी का सेवन करने से बचना चाहिए।
  •  यदि किसी महिला को ब्रेस्ट कैंसर हुआ है तो ऐसे में अलसी के बीज का सेवननहीं करना चाहिए। उनके सेहत के लिए हानिकारक होता है।(और पढ़े – ब्रैस्ट कैंसर क्या है और ब्रेस्ट कैंसर का इलाज क्या है)
  • जिन लोगो को अलसी से एलर्जी है। तो उनको अलसी का सेवन करने से बचनाचाहिए।
  • नए लोगो को अलसी का सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर से एक बार बातजरूर करे।

अलसी का बीज का सेवन करने से स्वास्थ्य में किसी प्रकार की अनियमियता हो रही है। तो तुरंत इसका सेवन करना बंद कर दे। और तुरंत अपने पारिवारिक चिकिस्तक (General Physician) से संपर्क करें।

अलसी के 10 फायदे देखे :-

  • भूरे-काले रंग के यह छोटे छोटे बीज, हृदय रोगों से आपकी रक्षा करते हैं। इसमें उपस्थित घुलनशील फाइबर्स, प्राकृतिक रूप से आपके शरीर में कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने का काम करता है। इससे हृदय की धमनियों में जमा कोलेस्ट्रॉल घटने लगता है, और रक्त प्रवाह बेहतर होता है, नतीजतन हार्ट अटैक की संभावना नहीं के बराबर होती है ।
  • अलसी में ओमेगा-3 भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो रक्त प्रवाह को बेहतर कर, खून के जमने या थक्का बनने से रोकता है, जो हार्ट-अटैक का कारण बनता है। यह रक्त में मौजूद कोलेस्ट्रॉल को कम करने में भी सहायक है।
  • यह शरीर के अतिरिक्त वसा को भी कम करती है, जिसे आपका वजन कम होने में सहायता मिलती है।
  • अलसी में मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट्स और फाइटोकैमिकल्स, बढ़ती उम्र के लक्षणों को कम करती है, जिससे त्वचा पर झुर्रियां नहीं होती और कसाव बना रहता है। इससे त्वचा स्वस्थ व चमकदार बनती है।
  • अलसी में अल्फा लाइनोइक एसिड पाया जाता है, जो ऑथ्राईटिस, अस्थमा, डाइबिटीज और कैंसर से लड़ने में मदद करता है। खास तौर से कोलोन कैंसर से लड़ने में यह सहायक होता है।
  • सीमित मात्रा में अलसी का सेवन, खून में शर्करा के स्तर को नियंत्रित करता है। इससे शरीर के आंतरिक भाग स्वस्थ रहते हैं, और बेहतर कार्य करते हैं।
  • इसमें उपस्थित लाइगन नामक तत्व, आंतों में सक्रिय होकर, ऐसे तत्व का निर्माण करता है, जो फीमेल हार्मोन्स के संतुलन को बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।
  • अलसी के तेल की मालिश से शरीर के अंग स्वस्थ होते हैं, और बेहतर तरीके से कार्य करते हैं। इस तेल की मसाज से चेहरे की त्वचा कांतिमय हो जाती है।
  • शाकाहारी लोगों के लिए अलसी, ओमेगा-3 का बेहतर विकल्प है, क्योंकि अब तक मछली को ओमेगा-3 का अच्छा स्त्रोत माना जाता था,जिसका सेवन नॉन-वेजिटेरियन लोग ही कर पाते हैं।
  • प्रतिदिन सुबह शाम एक चम्मच अलसी का सेवन आपको पूरी तरह से स्वस्थ रखने में सहायक होता है, इसे पीसकर पानी के साथ भी लिया जा सकता है । अलसी को नियमित दिनचर्या में शामिल कर आप कई तरह की बीमारियों से अपनी रक्षा कर सकते हैं, साथ ही आपको डॉक्टर के पास जाने की जरूरत भी नहीं पड़ेगी।

आगे और जानने के क्लिक करे 

Similar Posts

One Comment

  1. भारत सरकार की द्वारा चलाई जा रही सभी योजनाओं की जानकारी बस एक pmksny से पायें ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *