Chawal Ka Bhav Today – धान-चावल का मंडी भाव

Chawal Ka Bhav : इस पोस्ट में हम आपको अबकी बार चावल के मंडी भाव के बारे में जानकारी देंगे | आज चावल का मंडी भाव के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए यह आर्टिकल पूरा  पढ़े और Todey Rice Mandi Bhaav के बारे में जाने | तो चलो शुरू करते है :-

chawal ka mandi bhav
Chawal Ka Bhav

आज का बासमती धान का रेट 2021

प्रमुख धान मंडियाँभाव रु / क्विंटल मे
एटा मंडी बासमती 1121 धान रेट3630/-
सिरसा मंडी – HR3721/-
रतिया मंडी 1121 धान भाव3728/-
लासपुर यूपी मंडी3220/-

Chawal Ka Bhav Today 2022

Maximum Price:3500.00 INR/Quintal
Minimum Price:2700.00 INR/Quintal
This Month’s average price:14000.00 INR/Quintal
Peak price for this month:15000.00 INR/Quintal

धान-चावल का मंडी भाव

महंगाई की मार झेल रहे आम आदमी को चावल के मंडी भाव ने एक बार फिर परेशान कर दिया है। पिछले एक हफ्ते में चावल के मंडी भाव में 5 रुपये प्रति किलो तक की बढ़ोतरी हुई है। खुदरा पर चावल की विभिन्न किस्मों की कीमतों में 20 प्रतिशत तक की वृद्धि हुई है।

दुकानदारों का कहना है कि सितंबर-अक्टूबर तक जब धान की नई फसल आएगी तभी चावल के मंडी भाव में कमी आने की संभावना है. अभी चावल के दाम और बढ़ सकते हैं। फिलहाल सादे चावल (Rice) के दाम भी 30 से 35 रुपये और 40 से 45 रुपये प्रति किलो हो गए हैं।

व्यापारियों का कहना है कि स्टॉक चावल भी महंगा बिकता है क्योंकि स्टॉक में रखे चावल का वजन दो फीसदी कम हो जाता है. जबकि एक सप्ताह पहले तक इस चावल की कीमत पांच रुपये प्रति किलो से भी कम थी. दुकानदारों के मुताबिक आने वाले दिनों में रेट और बढ़ने की संभावना है।

धान-चावल का मंडी भाव

अच्छी गुणवत्ता वाले सेला और बासमती चावल के दामों में 3 से 4 रुपये प्रति किलो का इजाफा हुआ है।इन दिनों मंडी में ज्यादातर जगहों पर सादा चावल 30 रुपये किलो बिक रहा है। इसी तरह बासमती की कीमत 60 रुपये से लेकर 90 रुपये प्रति किलो तक है।

बड़ी संख्या में व्यापारी अपने गोदामों और दुकानों में पैक करते हैं, लेकिन बताया जाता है कि यह दिल्ली और अन्य कंपनियों से पैक करके आता है। जिस कारण बाजार उनके द्वारा निर्धारित रेट के अनुसार तय होता है।

चावल व्यापारियों का कहना है कि सबसे अच्छे बासमती चावल की कीमत 60 रुपये से लेकर 90 रुपये तक है।

Gwar ka Bhav Today

चावल का मंडी भाव बढ़ने का कारण

बांग्लादेश ने दिसंबर में चावल पर आयात शुल्क 62.5% से घटाकर 25% कर दिया, जिससे भारतीय चावल निर्यातकों के लिए पड़ोसी देश को गैर-बासमती चावल निर्यात करने और अनाज के बेहतर मूल्य प्राप्त करने का रास्ता खुल गया।

इस वित्तीय वर्ष में बांग्लादेश से लगभग 5 लाख टन गैर-बासमती चावल आयात करने की उम्मीद है। इसने चावल आयात करने के लिए कुछ भारतीय चावल निर्यातकों के साथ भी करार किया है।

Mung Ka Bhav Today

बासमती चावल की कीमतों में गिरावट

पर्याप्त स्टॉक के मुकाबले आयातकों की कमजोर मांग के कारण दिल्ली के थोक अनाज बाजार में बासमती चावल की कीमतों में आज 200 रुपये प्रति क्विंटल की गिरावट आई।

उपभोक्ता उद्योगों की कमजोर उठान के कारण जौ की कीमतों में भी गिरावट आई।

बाजार सूत्रों ने कहा कि आयातकों की सुस्त मांग के अलावा उत्पादक क्षेत्रों से आपूर्ति बढ़ने के कारण पर्याप्त स्टॉक जमा होने से मुख्यत: बासमती चावल कीमतों पर दबाव रहा।

Narma Ka Bhav Today

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *