Bukhar ka gharelu upchar – बुखार के 5 घरेलू उपचार

Bukhar ka gharelu upchar :- नमस्कार दोस्तों, आज हम बात करेंगे बुखार के घरेलू उपचार के बारे में। जिसके कारण अगर आपको बुखार है तो आप बुखार को घर पर ही ठीक कर सकते है।

इससे आपका समय की भी बचत हो जाती और पैसे भी बच सकते है। तो आओ शुरू करें बुखार के पांच घरेलू उपचार(Bukhar ka gharelu upchar) के बारे में :-

Bukhar ka gharelu upchar
Bukhar ka gharelu upchar

Bukhar ka gharelu upchar

बच्चों और यहां तक कि वयस्कों में बुखार काफी आम है। यह शरीर में मौजूद संक्रमण से लड़ने की प्राकृतिक प्रक्रिया है। बुखार होना अच्छी बात है क्योंकि इस दौरान शरीर अन्य बीमारियों के प्रति प्रतिरोधक क्षमता विकसित करता है, लेकिन लंबे समय तक बुखार शरीर को कमजोर करता है और स्वास्थ्य संबंधी जटिलताएं पैदा करता है।

  • ऊर्जा की अचानक गिरावट, शरीर में गंभीर दर्द, ठंड लगना और पसीना आना इसे असहज कर सकता है।
  • साधारण बुखार एक या दो दिनों में दूर हो जाता है, लेकिन लगातार बुखार के लिए उपचार की आवश्यकता होती है।
  • डॉ. लक्ष्मीदत्त शुक्ला का कहना है कि जब शरीर किसी भी तरह के संक्रमण से लड़ रहा होता है तो बुखार फ्लू की तरह आता है।
  • अगर आप बुखार से परेशान हैं तो शरीर को ठंडक पहुंचाने और बेहतर महसूस करने के लिए आप कुछ आसान और आसान घरेलू उपाय अपना सकते हैं।

यह भी देखें :- दारू के फायदे और नुकसान

बुखार के 5 घरेलू उपचार

Bukhar ka gharelu upchar :- आओ दोस्तों अब बात करें बुखार के 5 घरेलू उपचार के बारे में और निचे दिए गए लेख में आपको अच्छी तरह से बताया गया है। बुखार के 5 घरेलू उपचार :-

1. सिरका

बुखार से निपटने के सबसे सरल और प्रभावी तरीकों में से एक है सिरके और गुनगुने पानी से घोल तैयार करना और फिर उसमें अगले 10-15 मिनट तक बैठना है।

यह शरीर के तापमान को कम करेगा और इसे वापस सामान्य स्थिति में लाएगा। इस उपाय को दिन में एक बार तब तक जारी रखें जब तक समस्या कम न हो जाए।

यह भी देखें :- बुखार की सबसे अच्छी दवा कौन सी है?

2. कच्चे प्याज़

कच्चा प्याज शरीर के तापमान को नियंत्रित करने में मदद करता है और शरीर के दर्द को भी कम करता है। कच्चे प्याज का एक टुकड़ा ताजा कटा हुआ होना चाहिए और फिर पैरों के नीचे रखना चाहिए।

अब अपने पैरों को कंबल से ढक लें। यह तापमान को संतुलित कर बुखार को काफी हद तक कम कर देगा। यह बुखार के लिए सबसे अच्छे भारतीय घरेलू उपचारों में से एक है जो कभी निराश नहीं करता है।

3. सरसों के बीज

वयस्कों में बुखार के लिए सरसों के बीज प्रभावी घरेलू उपचारों में से एक हैं। सरसों के बीज में मौजूद फाइटोन्यूट्रिएंट्स वयस्कों और बच्चों दोनों में बुखार को कम कर सकते हैं। एक मुट्ठी राई लें और उन्हें एक कप गर्म पानी में डाल दें।

इसे अगले 5 मिनट तक अच्छी तरह से भिगो दें और फिर इसका सेवन करें। यह निश्चित रूप से बुखार के इलाज में मदद करेगा। इसका पालन तब तक करें जब तक समस्या पूरी तरह से ठीक न हो जाए।

यह भी देखें :- Bukhar ka gharelu upchar

4. किशमिश

जिन लोगों को तेज बुखार है उनके लिए यह घरेलू उपाय बहुत काम आ सकता है। 25 किशमिश को लगभग आधा कप पानी में भिगो दें। अब किशमिश को अच्छे से मैश कर लें और फिर पानी को छान लें।

इस तरल में आधा नींबू का रस मिलाकर दिन में दो बार पीने से तापमान सामान्य हो जाता है।

5. आर्टिचोक

आर्टिचोक में प्राकृतिक विषहरण गुण होते हैं। वे बैक्टीरिया और वायरस के कारण होने वाले संक्रमण को दूर करने में मदद कर सकते हैं ताकि बुखार को जल्दी से कम किया जा सके।

आटिचोक को नरम होने तक उबालें और पकाएं। बुखार ठीक होने तक इनका निचला हिस्सा रोजाना खाएं।

बुखार में कौन सा फल खाएं?

Bukhar ka gharelu upchar :- ये चीजें सांस की नली में बलगम और गले में जलन की समस्या को बढ़ाने का काम करेंगी। बरसात के मौसम में जब भी सीने में खांसी या जलन की समस्या महसूस हो तो दूध या दूध से बनी चीजें खाना बंद कर दें। पपीता- पपीता हमारी सेहत के लिए काफी फायदेमंद फल माना जाता है.

बुखार में कौन सा जूस पीना चाहिए?

Bukhar ka gharelu upchar :- अनार का जूस पीने से बुखार भी कम होता है। यह जुकाम को रोकने और इसके कारण होने वाले सर्दी और फ्लू को ठीक करने के लिए एक एंटीऑक्सीडेंट के रूप में कार्य करता है।

बुखार में क्या क्या नहीं खाना चाहिए?

Bukhar ka gharelu upchar :- बुखार में चावल न खाकर रोटी खानी चाहिए क्योंकि बुखार के समय चावल के मुकाबले रोटी को हजम करना ज्यादा आसान होता है।

अंतिम शब्द

दोस्तों, आपको इस पोस्ट में हमने बुखार के 5 घरेलू उपचार(Bukhar ka gharelu upchar) के बारे में बताया है, अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी तो कमेंट करें।

इसके आवला अपने दोस्तों को भी शेयर करें ताकि उनको भी बुखार के घरेलू उपचार(Bukhar ka gharelu upchar) के बारे में जानकारी मिले।

धन्यवाद, आपका दिन शुभ हो।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *