भाई दूज कब है? – Bhai Dooj 2023

Bhai Dooj 2021 – आज आपको इस पोस्ट में बताने जा रहे है की भाई दूज कब है और भाई दूज के बारे में अन्य जानकारी भी आपको इस पोस्ट में बतायेगे तो हमारे साथ अंत तक साथ बने रहे

Bhai Dooj 2021 – कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की द्वितीया तिथि को पूरे देश में भाई दूज का पर्व मनाया जाता है। इस दिन बहनें अपने भाई के माथे पर तिलक लगाती हैं और उनकी लंबी उम्र और समृद्धि की कामना करती हैं।

भाई दूज कब है? Bhai Dooj 2021

Bhai Dooj 2021 हिन्दू पंचांग के अनुसार इस वर्ष भाई दूज का पावन पर्व शनिवार 6 नवंबर 2021 को है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार इस वर्ष भाई के लिए तिलक करने का शुभ मुहूर्त दोपहर 1:10 बजे से 3:21 बजे तक है। यानी शुभ मुहूर्त की कुल अवधि 2 घंटे 11 मिनट है।

भाई दूज पर पूजा विधि कैसे करे?

रक्षाबंधन की तरह सनातन हिंदू धर्म में भी भाई दूज का विशेष महत्व है। इस दिन बहनें अपने भाई को तिलक लगाती हैं। इस दिन भाई की लंबी उम्र और उज्ज्वल भविष्य के लिए सबसे पहले पूजा की थाली को फल, फूल, दीपक, अक्षत, मिठाई, सुपारी आदि से सजाएं. इसके बाद घी का दीपक जलाकर भाई की आरती करें. और शुभ मुहूर्त देखने के बाद तिलक करें। तिलक लगाने के बाद भाई को पान, मिठाई आदि का भोग लगाएं।

तिलक और आरती के बाद भाई को अपनी बहन की रक्षा करने का संकल्प लेना चाहिए और उसे उपहार देना चाहिए। पौराणिक कथाओं के अनुसार जब बहनें भाई दूज के अवसर पर अपने भाई को तिलक करती हैं तो भाई के जीवन पर आने वाले सभी संकट नष्ट हो जाते हैं और उसके जीवन में सुख-समृद्धि की प्राप्ति होती है। और इस दिन बहन के घर भोजन करने से विशेष फल मिलता है।

यह भी देखे – Diwali 2021 – दीपावली कब है? दिनांक, तिथि, मुहूर्त और पूजा विधि

भाई दूज का महत्व

इस त्योहार को भाऊ बीज, टिक्का, यम द्वितीय और भात्री द्वितीया के नाम से भी जाना जाता है। भाई दूज के दिन भाई-बहन का एक साथ यमुना में स्नान करना शुभ माना जाता है। इस दिन बहनें भाई की लंबी उम्र की कामना के लिए घर के बाहर यम के नाम पर दीया जलाती हैं। इससे अकाल मृत्यु का भय दूर होता है। इस दिन यम की पूजा करते हुए, बहनें प्रार्थना करती हैं कि हे यम, श्री मार्कंडेय, हनुमान, राजा बलि, परशुराम, व्यास, विभीषण, कृपाचार्य और अश्वत्थामा, इन आठ चिरंजीवी की तरह, मेरे भाई को चिरंजीवी होने का वरदान दें।

भाई दूज कैसे मनाते हैं?

इस साल 6 नवंबर को भाई दूज है। दीपावली महापर्व का अंतिम पर्व भाई दूज है। भाई दूज का त्योहार भाई-बहन के अपार प्रेम और समर्पण का प्रतीक है। इसे यम द्वितीया या भातृ द्वितीया भी कहते हैं।

दीपावली की भाई दूज कब है?

इस साल 6 नवंबर को भाई दूज है। दीपावली महापर्व का अंतिम पर्व भाई दूज है। भाई दूज का त्योहार भाई-बहन के अपार प्रेम और समर्पण का प्रतीक है। इसे यम द्वितीया या भातृ द्वितीया भी कहते हैं।

अंतिम शब्द

Bhai Dooj 2021 – आज आपको इस पोस्ट में आपको बताया है की भाई दूज कब है? Bhai Dooj 2021 और भाई दूज पर पूजा विधि कैसे करे? और भाई दूज का महत्व के बारे में आपको बताया है यह पोस्ट आपको पसंद आई हो तो हमे कमेंट जरूर करे

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *