Ashokarishta Syrup Uses in indi

Ashokarishta Syrup का उपयोग क्या है, यहाँ आप Ashokarishta Syrup के बारे में सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त करेंगे। इस लेख में आप Ashokarishta Syrup के बारे में हिंदी में जानकारी मिलेंगी।

Ashokarishta Syrup Uses in indi

Ashokarishta की दवाई क्या है? इसके Uses, Benefits, Side Effects व Dosage के बारे में जानकारी पढ़ने को मिलेगा।

क़ीमत₹106.4 / एक बोतल में 450 ml अरिष्ट
निर्माताDabur
दवा का प्रकारDabur Ashokarishta Syrup 450ml, Dabur Ashokarishta Syrup 680ml

जानिए Ashokarishta Syrup in Hindi की जानकारी, लाभ, फायदे, उपयोग, प्रयोग, कीमत, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, डोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां

Ashokarishta Syrup in Hindi

अशोकारिष्ट क्या हैं– Ashokarishta Syrup एक आयुर्वेदिक औषधि है जो अशोक के पेड़ की छाल और अन्य जड़ी बूटियों को मिलाकर तैयार की जाती है। यह महिलाओं से जुड़ी कई तरह की समस्याओं को दूर करने में मदद करता है।

यह हार्मोन असंतुलन, अनियमित मासिक धर्म, कमर दर्द और पेट दर्द जैसी समस्याओं को ठीक करता है। इसके अलावा यह पुरुषों की कई समस्याओं को भी दूर करता है। (और पढ़ें – मासिक धर्म की समस्या)

Ashokarishta Syrup के पोषक तत्व– अशोकारिष्ट एक आयुर्वेदिक औषधि है जिसमें कई प्रकार के पोषक तत्व पाए जाते हैं। इसमें कार्बोहाइड्रेट, फ्लेवोनोइड्स, एल्कलॉइड्स, टैनिन्स, ग्लाइकोसाइड्स आदि होते हैं। यह कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं से बचाता है।

Ashokarishta Uses & Benefits

Ashokarishta Syrup एक आयुर्वेदिक औषधि है जो अशोक के पेड़ की छाल के साथ 14 प्राकृतिक अवयवों को मिलाकर तैयार की जाती है। इसका प्रयोग निम्नलिखित कारणों से किया जाता है-

  • प्रतिरक्षा को मजबूत करने के लिए
  • पेट दर्द के लिए अशोकारिष्ट
  • मासिक धर्म में उपयोगी
  • अल्सर में दिलाए अशोकारिष्ट

पेल्विक या पेल्विक सूजन में अशोकारिष्ट के लाभ ऑस्टियोपोरोसिस में अशोकारिष्ट के लाभ

  • महिलाओं को थकान से मुक्ति दिलाता है अशोकोरिष्ट
  • अशोकारिष्ट एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है
  • पाचन तंत्र के लिए अशोकारिष्ट के लाभ
  • कब्ज में अशोकारिष्ट के फायदे

Ashokarishta Side Effects

Ashokarishta Syrup एक ऐसी दवा है, जिसके इस्तेमाल से सेहत को कई फायदे होते हैं, लेकिन कुछ दुर्लभ मामलों में यह नुकसान भी पहुंचा सकता है।

  • उच्च रक्तचाप से पीड़ित लोगों को अशोकारिष्ट के सेवन से चिकित्सकीय सलाह लेनी चाहिए।
  • अशोकारिष्ट में कुछ मात्रा में गुणों का उपयोग किया जाता है, इसलिए मधुमेह रोगियों को इसका सेवन बहुत कम मात्रा में करना चाहिए।
  • गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को अशोकारिष्ट का सेवन न करने की सलाह दी जाती है।
  • अशोकारिष्ट का अधिक मात्रा में सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि इससे पेट में जलन और एसिडिटी हो सकती है।
  • महिलाओं में अनियमित महामारी की समस्या को नियंत्रित करने के लिए अशोकारिष्ट लाभकारी है। लेकिन इसका ज्यादा इस्तेमाल मासिक धर्म को प्रभावित कर सकता है।

Ashokarishta Syrup की ख़ुराक

यह ज्यादातर मामलों में दी जाने वाली डाबर अशोकारिष्ट की खुराक है। कृपया याद रखें कि हर मरीज और उनका मामला अलग हो सकता है। इसलिए, डाबर अशोकारिष्ट की खुराक रोग, प्रशासन की विधि, रोगी की आयु, रोगी के चिकित्सा इतिहास और अन्य कारकों के आधार पर भिन्न हो सकती है।

अशोकारिष्ट पीने का तरीका यह है कि अशोकारिष्ट के लाभ प्राप्त करने के लिए सामान्य तौर पर लगभग 25 मिलीलीटर अशोकारिष्ट को दिन में दो बार समान मात्रा में पानी के साथ खाने के बाद लिया जा सकता है।

Ashokarishta Syrup कैसे काम करती है?

डाबर अशोकारिष्ट मासिक धर्म के दौरान अत्यधिक रक्तस्राव को नियंत्रित करने के साथ-साथ शरीर के अंदर द्रव स्तर और शरीर के तापमान को बनाए रखने का काम करता है। यह अन्य प्रकार के रोगों जैसे गैस, पाचन समस्याओं, शरीर में प्राकृतिक विषाक्त पदार्थों, यकृत के समुचित कार्य आदि के उपचार में मदद करता है।

Ashokarishta Syrup Price

  • ₹106.4 / एक बोतल में 450 ml अरिष्ट

अन्य दवाइयों की जानकारी

Mucaine Gel SyrupCremaffin Plus Syrup
Aristozyme SyrupCypon Syrup
Neeri SyrupGrilinctus Syrup
Menohelp SyrupAlkasol Syrup
Zincovit SyrupCitralka Syrup

हम उम्मीद करते है की आपको Ashokarishta की दवाई के बारे में सारी जानकारी हिंदी में मिल गयी होगी, इस दवाई का उपयोग से पहले अपने निजी डॉक्टर से सलाह-मशवरा जरुर ले।

Ashokarishta के उपयोग, नुक्सान, फायदे” आपके लिए उपयोगी होगा, इसके साथ-साथ आपको Ashokarishta Syrup के बारे में जानकारी मिल गयी होगी, अगर आपका कोई भी सवाल या सुझाव है, तो हमे कमेंट में बता सकते है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.